Sham Savere Dekhu Tujhko (Lyrics) – Mera Shyam Aa Jata – Khatu Shyam Bhajan

0
61

Sham savere dekhu tujhko (Lyrics) by Mayank Aggarwal

Lyrics:श्याम सवेरे देखु

शाम सवेरे देखु तुझको कितना सुंदर रूप है,
शाम सवेरे देखु तुझको कितना सुंदर रूप है,
तेरा साथ ठंडी च्चाया बाकी दुनिया धूप है,
तेरा साथ ठंडी छाया बाकी दुनिया धूप है,
जब जब भी इसे पुकारू मे, जब जब भी इसे पुकारू मे,
तस्वीर को इसकी निहारू मे, तस्वीर को इसकी निहारू मे,
जब जब भी इसे पुकारू मे, तस्वीर को इसकी निहारू मे,
ओह मेरा श्याम आ जाता मेरे सामने,
ओह मेरा श्याम आ जाता मेरे सामने,
ओह मेरा श्याम आ जाता मेरे सामने,
ओह मेरा श्याम आ जाता मेरे सामने,

Advertisement

खुस हो जाए अगर सावरिया किस्मत को चमका देता,
खुस हो जाए अगर सावरिया किस्मत को चमका देता,
हांत पाकर ले अगर किसी का जीवन स्वर्ग बना देता,
हांत पाकर ले अगर किसी का जीवन स्वर्ग बना देता,
यह बातें सोच विचारू मे, यह बातें सोच विचारू मे,
यह बातें सोच विचारू मे, तस्वीर को इसकी निहारू मे,
यह बातें सोच विचारू मे, तस्वीर को इसकी निहारू मे,
ओह मेरा श्याम आ जाता मेरे सामने,
ओह मेरा श्याम आ जाता मेरे सामने,
ओह मेरा श्याम आ जाता मेरे सामने,
ओह मेरा श्याम आ जाता मेरे सामने,

श्याम सवेरे देखु तुझको कितना सुंदर रूप है,
श्याम सवेरे देखु तुझको कितना सुंदर रूप है,
तेरा साथ है ठंडी छ्चया बाकी दुनिया धूप है,
जब जब भी जग से हारू मे, जब जब भी जाग से हारू मे,
जब जब भी जग से हारू मे, तस्वीर को इसकी निहारू मे,
जब जब भी जग से हारू मे, तस्वीर को इसकी निहारू मे,
ओह मेरा श्याम आ जाता मेरे सामने,
ओह मेरा श्याम आ जाता मेरे सामने,
ओह मेरा श्याम आ जाता मेरे सामने,
ओह मेरा श्याम आ जाता मेरे सामने,

गिरने से पहले से ही आकर बाबा मुझको संभाल लेगा,
पूरा है विस्वास है राज को तूफ़ानो से निकलेगा,
यह तन मॅन तुझपे वारू मे, यह तन मॅन तुझपे वारू मे
यह तन मॅन तुझपे वारू मे, तस्वीर को इसकी निहारू मे,
ओह मेरा श्याम आ जाता मेरे सामने,
ओह मेरा श्याम आ जाता मेरे सामने,
ओह मेरा श्याम आ जाता मेरे सामने,
ओह मेरा श्याम आ जाता मेरे सामने,

शाम सवेरे देखु तुझको कितना सुंदर रूप है,
शाम सवेरे देखु तुझको कितना सुंदर रूप है,
तेरा साथ ठंडी च्चाया बाकी दुनिया धूप है,
तेरा साथ ठंडी च्चाया बाकी दुनिया धूप है,
जब जब भी इसे पुकारू मे, जब जब भी इसे पुकारू मे,
तस्वीर को इसकी निहारू मे, तस्वीर को इसकी निहारू मे,
जब जब भी इसे पुकारू मे, तस्वीर को इसकी निहारू मे,
ओह मेरा श्याम आ जाता मेरे सामने,
ओह मेरा श्याम आ जाता मेरे सामने,
ओह मेरा श्याम आ जाता मेरे सामने,
ओह मेरा श्याम आ जाता मेरे सामने,

Advertising
loading...