fbpx
Home / Kabir Bhajan

Kabir Bhajan

Krodh na choda Joot na choda- Kabirdas Bhajan

Krodh na choda Joot na choda Lyrics:क्रोध ना छोड़ा जूट ना छोड़ा क्रोध ना छोड़ा जूट ना छोड़ा क्रोध ना छोड़ा जूट ना छोड़ा सत्या वचन क्यो छोड़ दिया तूने नाम जापान क्यो छोड़ दिया जूते जाग मे जी लाल चाकर आसाल वतन क्यो छोड़ दिया तूने क्रोध ना छोड़ा …

Read More »

Kabir Bhajan कबीर भजन

Kabir Bhajan Lyrics:कबीर भजन उमरिया धोखे में खोये दियो रे। धोखे में खोये दियो रे। पांच बरस का भोला-भाला बीस में जवान भयो। तीस बरस में माया के कारण, देश विदेश गयो। उमर सब …. चालिस बरस अन्त अब लागे, बाढ़ै मोह गयो। धन धाम पुत्र के कारण, निस दिन …

Read More »

Umaria Dho Ke – उमरिया धोखे में- कबीरदास

उमरिया धोखे में खोये दियो रे। धोखे में खोये दियो रे। पांच बरस का भोला-भाला बीस में जवान भयो। तीस बरस में माया के कारण, देश विदेश गयो। उमर सब …. चालिस बरस अन्त अब लागे, बाढ़ै मोह गयो। धन धाम पुत्र के कारण, निस दिन सोच भयो।। बरस पचास …

Read More »