fbpx
Home / Gaurav Krishna Shastri / Mujhe Raas Aa Gayi Hai मुझे रास आ गया है – Krishna Bhajan By Gaurav Krishna Goswami ji

Mujhe Raas Aa Gayi Hai मुझे रास आ गया है – Krishna Bhajan By Gaurav Krishna Goswami ji

mujhe raas aa gaya hai tere dar pe sir jhukana,

Lyrics: मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना

मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना,
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना,
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना,
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना,
तुझे मिल गयी पुजारीन मुझे मिल गया ठिकाना,
तुझे मिल गयी पुजारीन मुझे मिल गया ठिकाना,
तुझे मिल गयी पुजारीन मुझे मिल गया ठिकाना,
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना,
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना,
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना,

तेरी सावरी सी सूरत मेरे मान मेी बस गयी है,
तेरी सावरी सी सूरत मेरे मान मेी बस गयी है,
तेरी सावरी सी सूरत मेरे मान मेी बस गयी है,
तेरी सावरी सी सूरत मेरे मान मेी बस गयी है,
आए सावरे सलोने अब और ना सतना,
आए सावरे सलोने अब और ना सतना,
आए सावरे सलोने अब और ना सतना,
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना,
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना,
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना,
तुझे मिल गयी पुजारीन मुझे मिल गया ठिकाना,
तुझे मिल गयी पुजारीन मुझे मिल गया ठिकाना,
तुझे मिल गयी पुजारीन मुझे मिल गया ठिकाना,

मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना,
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना,
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना,
बेजार बेदार बेधर हू तेरे दर पे आ पड़ी हू,
बेजार बेदार बेधर हू तेरे दर पे आ पड़ी हू,
बेजार बेदार बेधर हू तेरे दर पे आ पड़ी हू,
बेजार बेदार बेधर हू तेरे दर पे आ पड़ी हू,
तेरा दर ही बन गया है अब मेरा आसियाना,
तेरा दर ही बन गया है अब मेरा आसियाना,
तेरा दर ही बन गया है अब मेरा आसियाना,
तेरा दर ही बन गया है अब मेरा आसियाना,
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना,
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना,

मुझे कौन जनता था तेरी बंदगी से पहले,
मुझे कौन जनता था तेरी बंदगी से पहले,
मुझे कौन जनता था तेरी बंदगी से पहले,
मुझे कौन जनता था तेरी बंदगी से पहले,
तेरी याद ने बना दी मेरी ज़िंदगी फसाना,
तेरी याद ने बना दी मेरी ज़िंदगी फसाना,
तेरी याद ने बना दी मेरी ज़िंदगी फसाना,
तेरी याद ने बना दी मेरी ज़िंदगी फसाना,
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना,
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना,

मुझे इसका गम नही है की बदल गया जमाना,
मुझे इसका गम नही है की बदल गया जमाना,
मुझे इसका गम नही है की बदल गया जमाना,
मुझे इसका गम नही है की बदल गया जमाना,
मेरी ज़िंदगी के मालिक कही तुम बदल ना जाना,
मेरी ज़िंदगी के मालिक कही तुम बदल ना जाना,
मेरी ज़िंदगी के मालिक कही तुम बदल ना जाना,
मेरी ज़िंदगी के मालिक कही तुम बदल ना जाना,
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना,
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना,

यह सिर वो सिर नही है जिसे रख डू फिर उठा डू,
यह सिर वो सिर नही है जिसे रख डू फिर उठा डू,
यह सिर वो सिर नही है जिसे रख डू फिर उठा डू,
यह सिर वो सिर नही है जिसे रख डू फिर उठा डू,
जब चढ़ गया चरण मेी आसान नही उठना,
जब चढ़ गया चरण मेी आसान नही उठना,
जब चढ़ गया चरण मेी आसान नही उठना,
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना,
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना,

मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना,
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना,
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना,
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना,
तुझे मिल गयी पुजारीन मुझे मिल गया ठिकाना,
तुझे मिल गयी पुजारीन मुझे मिल गया ठिकाना,
तुझे मिल गयी पुजारीन मुझे मिल गया ठिकाना,
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना,
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना,
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सिर झुकना,

Check Also

Ek Radha Ek Mira\ Krishna Bhajan

Ek Radha Ek Mira Dono Ne Shyaam Ko Chaahaa Lyrics:एक राधा एक मीरा एक राधा …