Laakh Dukho Ki Ek Dawai\ Krishna Bhajan By Devi Chitralekhaji

Krishna hi tan hai krishna hi man hai,

Lyrics: लाख दुखो की एक दवाई

कृष्णा ही तन है कृष्णा ही मान है,
कृष्णा ही हम सबके जीवन है,
कृष्णा ही तन है कृष्णा ही मान है,
कृष्णा ही हम सबके जीवन है,
कृष्णा ही तन है कृष्णा ही मान है,
कृष्णा ही हम सबके जीवन है,
कृष्णा राम है कृष्णा श्याम है,
कृष्णा ही मेरे चारो धाम है,
कृष्णा राम है कृष्णा श्याम है,
कृष्णा ही मेरे चारो धाम है,
कृष्णा राम है कृष्णा श्याम है,
कृष्णा ही मेरे चारो धाम है,
कृष्णा ही मेरे चारो धाम है,

जिसकी महिमा सबने गाइ, जिसकी महिमा सबने गाइ,
जिसकी महिमा सबने गाइ, जिसकी महिमा सबने गाइ,
वो है मेरे कृष्णा कन्हाई, वो है मेरे कृष्णा कन्हाई,
लाख दुखो की एक दवाई, लाख दुखो की एक दवाई,
वो है मेरे कृष्णा कन्हाई, वो है मेरे कृष्णा कन्हाई,
कृष्णा कृष्णा बोलो, कृष्णा कृष्णा बोलो, कृष्णा कृष्णा बोलो,
कृष्णा कृष्णा बोलो, कृष्णा कृष्णा बोलो, कृष्णा कृष्णा बोलो,

कृष्णा सवास है वो विस्वास है,
कृष्णा ही से अब मेरी आश् है,
कृष्णा सवास है वो विस्वास है,
कृष्णा ही से अब मेरी आश् है,
कृष्णा सवास है वो विस्वास है,
कृष्णा करम है कृष्णा धरम है
कृष्णा का तो कन कन मेी बाज़ है,
कृष्णा करम है कृष्णा धरम है
कृष्णा का तो कन कन मेी बाज़ है,
कृष्णा का तो कन कन मेी बाज़ है,
दूर करे मेरे कठिनाई, दूर करे मेरे कठिनाई,
दूर करे मेरे कठिनाई, दूर करे मेरे कठिनाई,
वो है मेरे कृष्णा कन्हाई, वो है मेरे कृष्णा कन्हाई,
वो है मेरे कृष्णा कन्हाई, वो है मेरे कृष्णा कन्हाई,
लाख दुखो की एक दवाई, लाख दुखो की एक दवाई,
कृष्णा कृष्णा बोलो, कृष्णा कृष्णा बोलो, कृष्णा कृष्णा बोलो,
कृष्णा कृष्णा बोलो, कृष्णा कृष्णा बोलो, कृष्णा कृष्णा बोलो,